Can You Use Mr Clean In Bissell Crosswave, Aveda Botanical Repair Strengthening Leave-in Treatment, Amusement Parks In California, When To Harvest Miner's Lettuce, Revel Concerta2 Review, Chester Jefferies Gloves, Baisakhi Essay In Punjabi For Class 6, Burt's Bees Face Wipes Burn, " />

दीपावली पर निबंध हिंदी में

Diwali Essay in Hindi:- रोशनी के त्योहार दीवाली भारत भर में और विदेशों में भी माशुर है इस दिन लोग दीये के विभिन्न रंगीन और आतिशबाजी, शानदारी से करते है। इस दिन लोग लक्ष्मी और गनेश की पूजा करते है। दिवाली मे लोग नए कपड़े पहनते है। उस दिन दीवाली में अँधेरे पर प्रकाश कि जीत होती है यानि कि बुराइओं पर अच्छाइओ की जीत होती है।, दिवाली मे लोग अपने घर में तरह तरह के पकवान बनाते है और भागवान को पकवानो का भोग भी लगाते है, लोग एक दूसरे के घर जा कर बधाईया और मिठाइयां देते है।, प्रस्तावना: वैसे तो सभी त्योहार खुशियों और उल्लास से भरपूर होता हैं, लेकिन दीपावली का त्योंहार हम सभी के मन में एक अलग ही उत्साह का माहौल पैदा करता हैं। चारों तरफ़ जगमगाते हुए छोटे-छोटे दियो का प्रकाश और उनकी खूबसूरती हम सभी के मन को एक अलग ही खुशी का अनुभव कराती है। छोटे – छोटे दियो का दूर तक फैला हुआ प्रकाश तथा पटाखों की गूँज ना सिर्फ़ बच्चों के मन को उत्साह से भरती है बल्कि बड़ो और बूढों में भी उत्साह का माहौल पैदा कर देती है।, दीपावली हर साल कार्तिक महीने की शुक्ल पक्ष को मनाई जाती है। भगवान श्री राम इसी तिथि को अपने 14 वर्षों के वनवास को खत्म कर के अयोध्या वापस लौटे थे। उनके स्वागत में सम्पूर्ण अयोध्या वासियों ने उस दिन घी के दिये जलाए थे।, भगवान राम दशहरा के दिन रावण का वध कर के सम्पूर्ण संसार को बुराई पर अच्छाई की जीत का संदेश दिया था। रावण का वध करने के पश्चात वो अपने छोटे भाई लक्ष्मण तथा पत्नी सीता के साथ 14 वर्षों के वनवास के बाद अपने राज्य अयोध्या वापस लौटे थे। उनके अपने राज्य अयोध्या वापस लौटने की ख़ुशी में अयोध्यावासियों ने सम्पूर्ण राज्य में घी के दिये जलाकर उनका स्वागत किया था।, तब से हर साल हिन्दू धर्म मे इसी दिन दीपावली का पर्व मनाया जाता है। हिन्दू धर्म में मान्यता है कि इस दिन भगवान राम बुराई पर अच्छाई की जीत का संदेश लेकर सभी के घरों में वापस आते है ऐसे में सभी उनका स्वागत घी का दिया जलाकर करते हैं।, इस त्योहार को मनाने की तैयारी इसके आने के कई दिन पहले से ही शुरू हो जाती है। दीपावली के पहले हि लोग अपने घरों की साफ- सफाई तथा रंगाई – पुताई भी करा लेते है। इसके साथ ही दीपावली के दो दिन पहले धनतेरस के भी पर्व आता है। जिस दिन लोग अपने लिए नए कपड़े तथा कुछ नए समान की भी ख़रीददारी करते हैं। दीपावली का उत्सव 3 – 4 दिनों तक मनाया जाता है।, दीपावली पर लोग एक दूसरे के प्रति सभी बैर तथा नफ़रत को भूलकर एक दूसरे को इसकी शुभकामनाएं देते हैं।, इस दिन सभी लोग हर बुराई को भूलकर अच्छाई का स्वागत करते है। सभी घरों में घी के दिये जलाए जाते है तथा एक दूसरे को मिठाईयां उपहार में दी जाती है। बच्चों के लिए ये त्योहार काफ़ी उत्साह से भरा हुआ होता है। इस दिन वो नए कपड़े पहनकर मिठाइयों का सेवन करते हुए काफी खुश नजर आते है।, Diwali Essay in Hindi: दीपावली के दिन चारों तरफ़ प्रकाश का माहौल तथा पटाखों की गूँज हम सभी के मन में एक अलग तरह का रोमांच पैदा कर देती है।, ◆ उपसंहार: दीपावली खुशियों और उत्साह का पर्व हैं। इस दिन हम सभी को एक दूसरे के साथ मिलकर ख़ुशी मनाना चाहिए। अगर हमारें मन मे किसी के प्रति कोई द्वेष या नफरत है तो इस दिन हमे इन सब चीज़ो को भूलकर, प्यार और अच्छाई का संदेश देना चाहिए।, कई जगहों पर लोग इस दिन जुआ आदि भी खेलते हुए नज़र आते हैं। जो कि काफ़ी बुरी बात है। ये पर्व खुशियों का और बुराई पर अच्छाई की जीत का संदेश देने वाला पर्व है। अतः इस दिन कोई भी बुरा कार्य नहीं करना चाहिए, बल्कि इस दिन तो किसी ऐसे कार्य को जीवनपर्यन्त ना करने की शपथ लेनी चाहिए।, दीपावली के दिन पटाखों की वजह से भी कई बार दुर्घटनाएं होते हुए देखी गयी है। ऐसे बच्चों को  पटाख़े जलाते समय सावधानी रखनी चाहिए तथा कम से कम पटाख़े ही जलाने चाहिए। दीपावली का त्योहार साफ- सफाई तथा अच्छाई का संदेश देने वाला त्योहार है। इस दिन पटाख़े जलाकर पर्यावरण को प्रदूषित करना कहीं से भी उचित नहीं हैं। पटाखों की ध्वनि से मासूम जानवर भी असहज हो जाते है।, ऐसे में दीपावली पर पटाख़ों का प्रयोग कम से कम ही करना चाहिए। इस दिन को दिए जलाकर तथा चारों तरफ़ प्रकाश फ़ैलाकर ख़ुशी- खुशी मनाया जाना चाहिए।, दीवाली का पर्व हम सभी के जीवन मे खुशियों तथा उत्साह का माहौल ले के आता है। इन खुशियों और उत्साह का मज़ा तब दोगुना हो जाता है जब हमारे सभी अपने हमारे साथ ही इस पर्व को मनाते है। लेकिन कई बार रिश्तों की कड़वाहट की वज़ह से हमारे अपने हमसे थोड़े दूर हो जाते है। ऐसे में ये पर्व हमे एक मौका देते है उन्हें मनाने का और उनके साथ मिलकर खुशियाँ मनाने का।, अगर आपसे भी कोई अपना थोड़ा नाराज़ चल रहा है तो इस साल दीवाली पर आपके पास भी मौका है उन्हें मनाकर खुशी से गले लगाने का।, ऐसे में हम आपको रूठे हुए लोगो को मनाकर उनके चेहरे पर, मुस्कान लाने की तरक़ीब बताने वाले है। आप इस दीवाली पर अपने प्यारें दोस्तों तथा जानने वाले लोगो को दीवाली की शुभकामनाएं यहाँ पर दिए गए Hindi Diwali Wishes के साथ भेजिए। हमें पूरा विश्वास है कि जब आप इन Diwali Wishes के साथ अपने प्रियजनों को दीपावली की शुभकामनाएं भेजेंगे तो वो निश्चित रूप से सारे गिले शिक़वे भूलकर आपको प्यार से गले लगा लेंगे।, इसके साथ ही जो लोग घर से दूर है और किसी कारणवश इस दीवाली पर आपके साथ नही रह पाएंगे, उन्हें भी जब आप ये  Diwali Wishes Hindi Message भेजेंगे तो उन्हें भी आपकी कमी बिल्कुल नहीं खलेगी और उन्हें आपके बिल्कुल पास होने का अनुभव होगा।, “मेरी तराफ़ से हर किसी को बधाई एक खुश और आनंदमय दीवाली।” “हैप्पी दीवाली”, “यह दीपों का पर्व है, इसका सुनहरा अर्थ है, पर मन का अंधेरा न मिट सके तो, दीपों का जलाना व्यर्थ है।” – हैप्पी दिवाली, “अपनों का हो प्यार, माँ लक्ष्मी का हो वास, खुशियाँ मिले हज़ार, दिवाली का त्यौहार हो इतना खास।” – हैप्पी दिवाली, “डरती है उजाले से, रात कितनी भी हो काली, जलाकर प्रेम का दीपक, मनाएं अपनी यह दिवाली।” – Diwali Essay in Hindi, “दीप जलते जगमगाते रहे, हम आपको आप हमें याद आते रहें, जब तक जिंदगी है दुआ है हमारी, आप चांद की तरह जगमगाते रहें।” – Diwali Essay in Hindi, “पटाखों, फुलझड़ियों के साथ, मस्ती से भरी हो दिवाली की रात, प्यार भरे हों दिन ये सारे, खुशियां रहे साथ तुम्हारे।” – हैप्पी दिवाली, “दिनों दिन बढ़ता जाए आपका कारोबार,  मुबारक हो आपको ये दिवाली सितारों ने गगन से सलाम भेजा है रंगी रंगोली, दीप जलाए YourHindiQuotes.com, वैसे तो सभी त्योहार खुशियों और उल्लास से भरपूर होता हैं, लेकिन, दीपावली हर साल कार्तिक महीने की शुक्ल पक्ष को मनाई जाती है। भगवान श्री राम इसी तिथि को अपने, इस त्योहार को मनाने की तैयारी इसके आने के कई दिन पहले से ही शुरू हो जाती है। दीपावली के पहले हि लोग अपने घरों की साफ- सफाई तथा, दीपावली खुशियों और उत्साह का पर्व हैं। इस दिन हम सभी को एक दूसरे के साथ मिलकर ख़ुशी मनाना चाहिए। अगर हमारें मन मे किसी के प्रति कोई द्वेष या नफरत है तो इस दिन हमे इन सब चीज़ो को भूलकर, प्यार और अच्छाई का संदेश देना चाहिए।, मुस्कान लाने की तरक़ीब बताने वाले है। आप इस दीवाली पर अपने प्यारें दोस्तों तथा जानने वाले लोगो को दीवाली की शुभकामनाएं यहाँ पर दिए गए, इसके साथ ही जो लोग घर से दूर है और किसी कारणवश इस दीवाली पर आपके साथ नही रह पाएंगे, उन्हें भी जब आप ये, भेजेंगे तो उन्हें भी आपकी कमी बिल्कुल नहीं खलेगी और उन्हें आपके बिल्कुल पास होने का अनुभव होगा।, यह दीपों का पर्व है, इसका सुनहरा अर्थ है, पर मन का अंधेरा न मिट सके तो, दीपों का जलाना व्यर्थ है।.

Can You Use Mr Clean In Bissell Crosswave, Aveda Botanical Repair Strengthening Leave-in Treatment, Amusement Parks In California, When To Harvest Miner's Lettuce, Revel Concerta2 Review, Chester Jefferies Gloves, Baisakhi Essay In Punjabi For Class 6, Burt's Bees Face Wipes Burn,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *